[PDF] यूपी हैसियत प्रमाण पत्र फॉर्म | UP Haisiyat Praman Patra Form Download

UP Haisiyat Praman Patra Form PDF Download | उत्तर प्रदेश हैसियत प्रमाण पत्र पीडीएफ डाउनलोड | Haisiyat Praman Patra 2022 Online Form | हैसियत प्रमाण पत्र हेतु आवेदन फॉर्म


उत्तर प्रदेश हैसियत प्रमाण पत्र राज्य द्वारा प्रदेश के नागरिकों या संस्था का बनाया जाता है, जो व्यक्ति की आर्थित स्थित या मजबूती की जानकारी को प्रदर्शित करता है। Haisiyat Praman Patra को राज्य सरकार ने पांच भागों में बनता है। व्यक्तिगत विवरण, संपत्ति का विवरण, अनिवार्य व्यक्तिगत संलग्नक, संपत्ति के अनुसार सम्बंधित दस्तावेज, घोषणा पत्र इन सभी के आधार पर व्यक्ति या संस्था का हैसियत प्रमाण पत्र बनाया जाता है। यूपी हैसियत प्रमाण पत्र फॉर्म कई प्रकार का सरकारी या गैर सरकारी रोजगार कार्य करने, या व्यवसाय खोलने के लिए हमें हैसियत का प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। कोई सरकारी ठेका लेना, बड़ी-बड़ी बिल्डिंगों को बनाने का काम लेना, कोई सड़क का ठेका लेना या बैंक से लोन लेने आदि में भी हैसियत प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ती है।

नीचे हम आपको Uttar Pradesh Haisiyat Praman Patra Application Form PDF | UP Haisiyat Praman Patra Form PDF | Haisiyat Praman Patra Form Download | उत्तर प्रदेश हैसियत प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म पीडीएफ | यूपी हैसियत प्रमाण पत्र फार्म डाउनलोड | हैसियत प्रमाण पत्र PDF | उत्तर प्रदेश हैसियत सर्टिफिकेट प्रदान करेंगे। कृपया आगे पढ़ना जारी रखें।

UP Haisiyat Praman Patra Form PDF Download

यूपी हैसियत प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड

UP Haisiyat Praman Patra Application Form Download:
लेख का नाम हैसियत प्रमाण पत्र 2022
भाषा हिंदी/ English
लाभार्थी राज्य के नागरिक
लाभ व्यवसाय खोलने के लिए
सम्बंधित विभाग राजस्व विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार
Important Links:
आधिकारिक वेबसाइट Click Here
हैसियत प्रमाण पत्र pdf Download Here
आवेदन की स्थिति यहाँ क्लिक करें
प्रमाण पत्र का सत्यापन यहाँ क्लिक करें
हैसियत प्रमाण-पत्र हेतु आवेदन (भाग 1 से लेकर भाग 5) Haisiyat Certificate PDF

UP Haisiyat Praman Patra में मुख्य रूप से भरी जाने वाली जानकारियां

यूपी हैसियत प्रमाण पत्र (Uttar Pradesh Haisiyat Certificate) में अनेक प्रकार की जानकारियों का विवरण देना होता है क्योंकि यह प्रमाण पत्र हमारी आर्थिक स्थिति के आधार पर बनाया जाता है। जिनमें मुख्य रूप से हमें इस प्रमाण पत्र में निम्न प्रकार की जानकारियों का विवरण स्पष्ट रूप से देना होता है।

  • व्यक्तिगत विवरण
  • संपत्ति का विवरण
  • अनिवार्य व्यक्तिगत संलग्नक
  • संपत्ति के अनुसार सम्बंधित दस्तावेज
  • घोषणा पत्र
यूपी हैसियत प्रमाण पत्र की आवश्यकता

UP Haisiyat Praman Patra की आवश्यकता सरकारी प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए चाहिए होता है जैसे सरकारी टेंडर, सरकारी निर्माण कार्य का ठेका, बैंक से लोन लेने के लिए, वह अन्य प्रकार के किसी वस्तु या सेवा जिनकी लागत अधिक होती है। उनके लिए हमें हैसियत प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है।

Documents Required for UP Haisiyat Praman Patra

यूपी हैसियत प्रमाण पत्र (Haisiyat Certificate) के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची निम्न प्रकार से है।

  1. आधार कार्ड
  2. पैन कार्ड नंबर
  3. निवास प्रमाण के लिए कोई दस्तावेज
  4. आवेदक की पासपोर्ट-साइज फोटो
  5. अगर जमीन है तो भूमि की फोटो
  6. अगर घर है तो उसकी फोटो
  7. संपत्ति से संबंधित जरूरी दस्तावेज
  8. बैंक में जमा आपकी राशि को भी आप इसमें शामिल कर सकते है, इसके लिए बैंक की सभी जानकारी।

UP Haisiyat Praman Patra में अपनी संपत्ति का मूल्यांकन या जोड़ किया जाता है जो आवेदक करता के नाम पर हो। यूपी हैसियत प्रमाण पत्र में किसी भी बंधक संपत्ति का मूल्यांकन नहीं किया जाएगा। चल संपत्ति का कुल स्वीकार मूल्यांकन भार मुक्त अचल संपत्ति के कुल मूल्यांकन के आधे से अधिक नहीं होना चाहिए।

उत्तर प्रदेश हैसियत प्रमाण पत्र हेतु आवेदन कैसे करें?

UP Haisiyat Praman Patra Application Process:

  1. ऊपर दिए लिंक की मदद से आप हैसियत प्रमाण-पत्र हेतु आवेदन फॉर्म (भाग 1 से लेकर भाग 5) पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड कर सकते हैं।
  2. जिसके बाद, आपको एप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट-आउट निकालना होगा। आवेदन पत्र में मांगी गयी सभी प्रकार की जानकारियों को स्पष्ट रूप से भरे।
  3. उसके बाद, ऊपर दिए गए आवश्यक दस्तावेजों को आवेदन पत्र के साथ संलग्न करना करें।
  4. अंत में इस UP Haisiyat Praman Patra आवेदन फॉर्म को अपने राजस्व विभाग के अधिकारी के पास जमा करा दें।
  5. सभी प्रकार की जानकारियां सही पाए जाने पर आपको राजस्व विभाग द्वारा हैसियत प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

नोट – हैसियत प्रमाण पत्र बनाने के लिए ₹100 फीस (Haisiyat Praman Patra Fees) लगती है। उप्र हैसियत प्रमाण पत्र की वैधता 2 साल तक रखी गई है, किंतु संपत्ति में किसी प्रकार का बदलाव होता है तो प्रमाण पत्र की वैधता समाप्त हो जाती है।

उत्तर प्रदेश सरकार की अन्य योजनाओं हेतु यहाँ क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top