दिव्यांग शादी प्रोत्साहन योजना 2022: Divyang Shadi Protsahan Yojana, विकलांग से शादी करने में मिलेंगे 1 लाख रुपये

Divyang Shadi Protsahan Yojana Online Application Form | दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना मध्य प्रदेश (MP), UP, Bihar, Rajasthan, Chhattisgarh | विकलांग शादी प्रोत्साहन योजना ऑनलाइन फॉर्म

सभी राज्य सरकारों के विकलांग कल्याण विभाग ने दिव्यंजनों के लिए कल्याणकारी “दिव्यांग शादी प्रोत्साहन योजना 2022” शुरू की है। यह योजना विकलांग विवाह संस्था के अंतर्गत आती है और इसे विकलांग विवाह योजना के नाम से भी जाना जाता है। अब सरकार द्वारा दिव्यांग से शादी करने पर एक लाख रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। अगर लड़का और लड़की दोनों दिव्यांग हैं तो दो लाख और दिव्यांगों के अन्तरजातीय विवाह करने पर तीन लाख रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसका लाभ 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग को ही मिलेगा। यह अपने आप में शुरू की गयी पहली योजना है जिसमे विकलांग व्यक्ति से शादी करने पर सरकार आर्थिक मदद कर रही है। जिससे दिव्यांग व्यक्ति की भी शादी हो सके और वो अपने आगे का जीवन अच्छे से निर्वाह कर सके।

डीआरडीए में राज्य आयुक्त नि:शक्तता डॉ. शिवाजी कुमार की अध्यक्षता में जनप्रतिनिधियों की बैठक हुई। राज्य आयुक्त ने दिव्यांगों को मिलने वाली सुविधा और नियमों के बारे में जानकारी देते हुए जनप्रतिनिधियों से दिव्यांगों को सहयोग करने की अपील की। उन्होंने बताया कि दिव्यांग शादी के बाद, प्रोत्साहन राशि के लिए सामाजिक सुरक्षा कोषांग में आवेदन दे सकते हैं। साथ ही अगर प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने में कोई दिक्कत हो तो उसके लिए शिकायत हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये गए है। नीचे हम आपको Divyang Shadi Protsahan Yojana 2022 Application Form | 1 Lakh Rupees to Marry Disabled Person | विकलांग शादी प्रोत्साहन योजना हेतु आवेदन कैसे करें की पूरी जानकारी दे रहे हैं।

Divyang Shadi Protsahan Yojana Details In Hindi

दिव्यांग शादी प्रोत्साहन योजना (विकलांग से शादी करने में मिलेंगे 1 लाख रुपये)

Divyang Shadi Protsahan Yojana (1 Lakh Rupees to Marry Disabled Person) – जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया कि सरकार अब दिव्यांग से शादी करने में प्रोत्साहन राशि प्रदान कर रही है। सरकार की जो योजनाएं चल रही हैं, उसका लाभ दिव्यांगों को मिलना चाहिए। इसलिए लड़का और लड़की में जो दिव्यांग होगा, उसे ही प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। अगर दोनों दिव्यांग हैं तो दोनों को राशि मिलेगी। तीन साल के लिए राशि फिक्स्ड डिपाजिट (FD) करने का प्रावधान है।

पात्र उम्मीदवार शादी के दो साल के अंदर प्रोत्साहन राशि के लिए आवेदन कर सकते हैं। शादी के बाद, दिव्यांगों को अपने जिले में ही आवेदन जमा करना होगा। दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग (PwD Empowerment Dept) द्वारा आवेदन का सत्यापन करने के बाद, प्रोत्साहन राशि लाभार्थी के खाते में DBT के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाएगी।

Overview of Divyang Shadi Protsahan Yojana 2022

योजना का नाम दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना
विकलांग शादी योजना २०२२
शुरू की गयी विकलांग कल्याण विभाग
उद्देश्य दिव्यांगजनों को विवाह हेतु प्रोत्साहन राशि प्रदान करना
लाभार्थी 40% से अधिक विकलांगता वाले दम्पति
राज्य शामिल मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान आदि
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ ऑफलाइन मोड
आर्टिकल श्रेणी केंद्र/ राज्य सरकार योजना
Divyang Shadi Protsahan Yojana हेतु महत्वपूर्ण विवरण
  1. सरकार द्वारा दिव्यांगों के लिए शिक्षा की विशेष व्यवस्था की गयी है।
  2. साथ ही निजी स्कूलों को पांच प्रतिशत दिव्यांगों का नामांकन लेना होगा।
  3. सैंडिस कंपाउण्ड में चलंत कोर्ट में सुनवाई होगी, जिसमे दिव्यांगों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा।
  4. पेंशन और सर्टिफिकेट नहीं मिलने पर भी सुनवाई होगी।
  5. इसके साथ ही विकलांग लोगों को ऑन स्पॉट ड्राइविंग लाइसेंस (DL) दिये जायेंगे।

Note – योजना की घोषणा करते हुए सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार ने 21 प्रकार की दिव्यांगता के बारे में जानकारी दी। जिसमे मुख्य रूप से शारीरिक विकलांगता और मानसिक विकलांगता की विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी।

मध्‍य प्रदेश दिव्यांग युवती शादी प्रोत्साहन के अंतर्गत दो लाख रुपये

MP Divyang Shadi Protsahan Yojana (Rs 2 Lakh Incentive) – अब मध्य प्रदेश सरकार भी दिव्यांग युवती की शादी के लिए 2 लाख रुपये की प्रोत्साहन प्रदान कर रही है। दिव्‍यांग युवती से विवाह के संबंध में प्रदेश के सामाजिक न्याय विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं। जिसमे कहा गया है कि अगर दूसरे राज्य का सामान्य व्यक्ति मध्य प्रदेश की दिव्यांग युवती से विवाह करता है तो मप्र सरकार ऐसे जोड़े को प्रोत्साहित करने के लिए दो लाख रुपए की सहायता देगी।

सरकार द्वारा जारी निर्देश के अनुसार दूसरे राज्य का दिव्यांग या सामान्य व्यक्ति प्रदेश की दिव्यांग युवती से शादी करता है तो एमपी की शिवराज सरकार ‘नि:शक्त विवाह प्रोत्साहन योजना’ के तहत उसे नकद राशि देकर प्रोत्साहित करती है। इस योजना में 40 फीसदी या उससे ज्यादा दिव्यांगता होने पर ही सरकार द्वारा प्रोत्साहन दिया जाएगा। इसके लिए आवेदकों को विकलांगता प्रमाण पत्र (Disability Certificate) देना अनिवार्य होगा। यह योजना विकलांग कल्याण विभाग MP द्वारा चलाई जा रही है।

कृपया ध्यान दे – नए संशोधन के तहत दूसरे राज्य के सामान्य व्यक्ति द्वारा मध्य प्रदेश की दिव्यांग युवती से शादी की जाती है तो सरकार दो लाख रुपए प्रोत्साहन राशि देगी। जबकि प्रदेश की दिव्यांग युवती की शादी राज्य के अंदर किसी से होती है तो ऐसे जोड़े को एक लाख रुपए प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। अधिक जानकारी के लिए विकलांग कल्याण विभाग MP पर जाइये।

उत्तर प्रदेश दिव्यांगजन शादी प्रोत्साहन योजना 2022

UP Divyangjan Shadi Protsahan Yojana – यूपी सरकार के दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग ने वर्ष 2022-2022 के लिए दिव्यांगजन शादी विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ कर दिए हैं। इस सरकारी योजना के तहत दिव्यांग दंपति को योगी सरकार की तरफ से 35 हजार रुपये का अनुदान दिया जाएगा। विकलांग विवाह प्रोत्साहन योजना में अगर जोड़े में से कोई एक भी अगर शारीरिक या मानसिक रूप से विकलांग है। वह भी इस योजना के तहत पात्र होंगे। जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी शिव सिंह ने बताया कि आधिकारिक पोर्टल divyangjan.upsdc.gov.in पर ऑनलाइन पंजीकरण स्वीकार किए जा रहे हैं।

दिव्यांगजन शादी/विवाह प्रोत्साहन योजना (Divyang Shadi Protsahan Yojana) के तहत दिव्यांग दंपति में युवक के विकलांग होने की स्थिति में 15 हजार रुपये व युवती के विकलांग होने की स्थिति में 20 हजार रुपये का अनुदान मिलेगा। इसके साथ ही अगर दोनों ही दिव्यांग हैं तो कुल 35,000 रुपये का अनुदान दिया जाएगा। शादी के लिए दी जाने वाली इस वित्तीय सहायता राशि को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (DBT) के माध्यम से सीधे उनके बैंक खाते में भेजा जाएगा। अधिक जानकारी हेतु इस लिंक Divyangjan Shadi Protsahan Yojana UP पर क्लिक करें।

Divyangjan Shadi Protsahan Yojana किन-किन राज्यों में चल रही है?

आपको बता दें कि विकलांग विवाह संस्था के अंतर्गत दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्य जैसे छत्तीसगढ़, बिहार, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड आदि प्रांतो में चल रही है। विकलांग विवाह योजना/ दिव्यांग शादी प्रोत्साहन योजना के तहत सरकार विकलांग दम्पति को प्रोत्साहन राशि के स्वरूप एक लाख रुपये से लेकर 3 लाभ रुपये तक देती है। बशर्ते लड़का और लड़की दोनों दिव्यांग होने चाहिए। अधिक जानकारी के लिए आप अपने राज्य के सम्बंधित विकलांग कल्याण विभाग (Handicapped Welfare Department) पर जा सकते हैं।

विकलांग शादी प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अपनी शिकायत दर्ज करें

File Your Complaint under Viklang / Divyang Shadi Protsahan Yojana – अगर किसी दिव्यांग को प्रोत्साहन राशि मिलने में कोई दिक्कत आ रही हो तो वह टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 844-8385-590 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। सरकार द्वारा कोरोना काल में सभी वृद्धावस्था/विधवा/विकलांगों के लिए 3 महीने की अग्रिम पेंशन डाल दी गयी है, अगर आपके खाते में अभी तक पेंशन नहीं आये है तो अधिक जानकारी हेतु इस लिंक पर क्लिक करें।

प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गयी अन्य सरकारी योजनाओं की सूची 2022

Scroll to Top