आत्मनिर्भर भारत योजना PDF in Hindi 2022 | आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0

Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Sepcial Package 2022 | आत्मनिर्भर भारत योजना PDF in Hindi | आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 ऑनलाइन आवेदन | Aatm Nirbhar 3.0 Application Form | Aatmanirbhar Bharat Mission PDF In Hindi/ English


दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत विशेष पैकेज 2022” की जानकारी देंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कोरोना संकट के बीच चौथी बार राष्ट्र के नाम संबोधन में ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ का ऐलान किया है। इसके लिए केंद्र सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषण की है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी अगले कुछ दिनों में चरण-दर-चरण तरीके से आत्मनिर्भर भारत पैकेज की विस्तृत जानकारी देश के सामने रखेंगी। यह आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज देश की कुल जीडीपी का करीब-करीब 10% है।

इस पैकेज में Land, Labour, Liquidity और Laws, सभी पर बल दिया गया है। आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज में मुख्य रूप से कुटीर उद्योग/लघु उद्योग से जुड़े लोगों, मजदूरों और किसानों को फायदा होगा। 20 लाख करोड़ रुपए का ये पैकेज, 2020-2022 में देश की विकास यात्रा को, आत्मनिर्भर भारत अभियान को एक नई गति देगा। नीचे हम आपको Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Special Package PDF | PM Self-Reliant India Campaign | प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान आर्थिक पैकेज की पूरी जानकारी दे रहे हैं। कृपया आगे पढ़ना जारी रखें।

Aatmanirbhar Bharat Abhiyan PDF In Hindi Download

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत विशेष पैकेज की घोषणा

Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Speical Package Details – जैसे कि आपको मालूम होगा कि देश में कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी की वजह से लॉकडाउन किया गया है। इस तालाबंदी की वजह से देश का हर नागरिक अपने घरों में कैद सा हो गया है। देश की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है क्योंकि सभी कामकाज बंद पड़े हैं। वैसे ये लॉकडाउन 17 मई को समाप्त होना था, परन्तु कोरोना के खतरे को देखते हुए इसको आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने हाल ही में दिए ‘राष्ट्र के नाम संबोधन’ में आधिकारिक रूप से लॉकडाउन 4 की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ये लॉकडाउन तोडा भिन्न होगा और इसमें आम नागरिकों को थोड़ी छूट दी जाएगी। साथ ही मोदी जी ने 20 लाख करोड़ का एक नया आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। यह आत्मनिर्भर भारत पैकेज भारत की जीडीपी का लगभग 10% है।

पीएम आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज की मुख्य विशेषताएं

Aatmanirbhar Bharat Abhiyan 2022 Key Highlights:
पहल का नाम आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज
घोषणा की गयी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
घोषणा हुई 12 मई, 2020
लाभार्थी देश के सभी नागरिक
पैकेज राशि 20 लाख करोड़ रुपये
उद्देश्य भारत को आत्मनिर्भर बनाना
योजना प्रकार कोरोना लॉकडाउन राहत पैकेज
आत्मनिर्भर भारत हेल्पलाइन नंबर 844-844-0632 (Toll-Free)
ऑफिशियल वेबसाइट https://www.pmindia.gov.in/
आत्मनिर्भर भारत योजना PDF in Hindi Download Here

आत्मनिर्भर भारत योजना PDF In Hindi 2020-21

Download Aatmnirbhar Bharat Yojana PDF 2020-21:
Aatma Nirbhar Bharat Abhiyan Part 1 Click Here
PM Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Part 2 Click Here
Aatmnirbhar Bharat Yojana Part 3 Click Here
PM Aatma Nirbhar Bharat Abhiyan Part 4 Click Here
Self-reliant India Campaign Part 5 Click Here
Areas of Self-reliant India Campaign Package 2022
  1. Reformation of Agricultural Supply Chain & System (कृषि आपूर्ति श्रृंखला और प्रणाली का सुधार)
  2. Rational Tax System (सरल और स्पष्ट नियम कानून)
  3. Reformation of Infrastructure (उत्तम आधारिक संरचना)
  4. Capable Human Resources (समर्थ और संकल्पित मानवाधिकार)
  5. A Good Financial System (बेहतर वित्तीय सेवा)
  6. To Motivate New Business (नए व्यवसाय को प्रेरित करना)
  7. Provide Good Investment Opportunities (निवेश को प्रेरित करना)
  8. Make In India Mission (मेक इन इंडिया मिशन)
आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज (लॉकडाउन 4)

Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Package (Lockdown 4) – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज की घोषणा करने के साथ-साथ अन्य कई बाते साझा की, जो इस प्रकार से हैं:

  • उन्होंने कहा की यह विशेष आर्थिक पैकेज (Special Economic Package) हमारे मजदूरों, किसानों, ईमानदार करदाताओं, एमएसएमई और कुटीर उद्योग के लिए है।
  • लॉकडाउन के चौथे चरण के बारे में विवरण 18 मई से पहले ज्ञात किया जाएगा, इसे बढ़ाया जाएगा। लेकिन यह पहले के चरणों से बिलकुल अलग होगा।
  • वैसे लॉकडाउन का तीसरा चरण 17 मई को समाप्त हो रहा है।
  • यह कहते हुए कि भारत पिछली सदी में प्रगति के लिए एक उदाहरण रहा है, मोदी जी ने कहा कि देश को कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के बाद दुनिया में आत्मनिर्भर बनने की जरूरत है।
  • इसके साथ ही पीएम ने जनता को साथ मिलकर कोरोना से लड़ने का संदेश दिया। उन्होंने कहा की हमें खुद को बचाना होगा और अपनी लड़ाई जारी रखनी होगी। हम हार नहीं मानेंगे हमे मिलकर इस बीमारी से लड़ना होगा।

अंत में प्रधानमंत्री जी ने देश में हुए कुछ अच्छे काम को गिनाते हुए कहा की जब संकट शुरू हुआ, तब भारत में एक भी पीपीई किट का निर्माण नहीं किया गया था, केवल कुछ एन 95 मास्क उपलब्ध थे, आज दो लाख PPE Kit और 2 लाख N 95 मास्क भारत में दैनिक रूप से निर्मित होते हैं। इसके साथ ही नए वेंटिलेटर का निर्माण भी लगातार हो रहे हैं।

लोकल सप्लाई चैन को और आधुनिक बनाएंगे

Will make Local Supply Chain more modern – प्रधानमंत्री मोदी जी ने कहा की जा भारत समृद्ध था, इसे सोने की चिड़िया कहा जाता था। तब देश सारा विश्व के साथ कल्याण की राह पर चला। परतु गुलामी की जंजीरों में जकड़े रहने के कारण हम विकास के लिए तरसते रहे। आखिर भारत विकास की ओर सफलतापूर्वक कदम बढ़ा रहा है। तब भी विश्वकल्याण की राह पर अटल है। हम अपनी क्वालिटी को और बेहतर करेंगे और सप्लाई चैन को भी आधुनिक बनाएंगे। यह हम कर सकते हैं और हम जरूर करेंगे।

इन पांच पिलर्स पर खड़ा होगा नया भारत

New India will stand on these 5 Pillars – पीएम नरेंद्र मोदी जी ने कहा, ‘आत्मनिर्भर भारत की ये भव्य इमारत, पाँच पिलर्स पर खड़ी होगी।’ जो निम्न प्रकार से है।

  1. पहला पिलर Economy – एक ऐसी इकॉनॉमी जो Incremental change नहीं बल्कि Quantum Jump लाए।
  2. दूसरा पिलर Infrastructure – एक ऐसा Infrastructure जो आधुनिक भारत की पहचान बने।
  3. तीसरा पिलर हमारा System – एक ऐसा सिस्टम जो बीती शताब्दी की रीति-नीति नहीं, बल्कि 21वीं सदी के सपनों को साकार करने वाली Technology Driven व्यवस्थाओं पर आधारित हो।
  4. चौथा पिलर हमारी Demography – दुनिया की सबसे बड़ी Democracy में हमारी Vibrant Demography हमारी ताकत है, आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ऊर्जा का स्रोत है।
  5. पाँचवाँ पिलर Demand – हमारी अर्थव्यवस्था में डिमांड और सप्लाई चेन का जो चक्र है, जो ताकत है, उसे पूरी क्षमता से इस्तेमाल किए जाने की जरूरत है।
नोट – वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण आज, 13 मई, 2020 को नई दिल्ली में शाम 4 बजे एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगी। #EconomicPackage #AatmanirbharBharat

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज की प्रेस कांफ्रेंस

Today’s Press Conference- Finance Minister Nirmala Sitharaman – वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज प्रेस कांफ्रेंस करते हुए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत विशेष पैकेज की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस स्पेशल पैकेज में सरकार ने बहुत से योजनाओं को शुरू किया है। जिसमे MSME, लघु और कुटीर उद्योग व्यवसायों को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके साथ ही आम नागरिक जो नौकरी पेशा वाले हैं उनको भी सरकार की तरह से थोड़ी राहत दी जाएगी। 15 हज़ार से कम सैलरी वाले व्यक्तियों को सरकार 24 फीसदी PF देगी
Aatmanirbhar Bharat Abhiyan (New Update)
इस आत्मनिर्भर भारत योजना में बिजली कंपनियों को 90,000 करोड़ की सहायता दी जाएगी। साथ ही कंस्ट्रक्शन कंपनियों को पंजीकरण के लिए 6 महीने की राहत दी जाएगी। सभी बिल्डरों को भी मकान पूरा करने का भी वक्त मिलेगा और सड़क, रेलवे व हाइवे का काम कर रही सभी कंपनियों को राहत दी जाएगी। कोरोना के चलते इस समय RERA (रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण) बिल्डर को भी छूट दी जाएगी।
PM Aatmanirbhar Bharat Loan Yojana 2022
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की अर्थव्यवस्था को सही रास्ते में लाने के लिए “आत्मनिर्भर भारत योजना 2022” की शुरुवात की है। जिससे देश के नागरिक आत्मनिर्भर बन कर स्वयं का रोजगार शुरू कर सके और साथ ही दूसरों को भी रोजगार उपलब्ध करा सके। इस अभियान के तहत केंद्र सरकार ने कई तरह की ऋण योजना को शामिल किया है, जिसमें कुछ नयी तो कुछ पुरानी स्कीम में बदलाव किये गए हैं। आत्मनिर्भर भारत योजना ऑनलाइन फॉर्म के चलने केंद्र सरकार ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पकैज का भी ऐलान किया है। इस आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज के तहत विभिन्न क्षेत्र में लाभ दिया जाएगा। इसके अंतर्गत MSME लोन, किसान क्रेडिट कार्ड (KCC), शिशु मुद्रा ऋण, क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी (CLSS) आदि को जोड़ा गया है। आत्मनिर्भर भारत योजना Online Form की अधिक जानकारी हेतु दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज के तहत लिए गए फैसले

  • MSME / छोटे व मध्यम उद्योगों के लिए: – इस Aatmanirbhar Bharat Abhiyan Special Package में छोटे व मध्यम उद्योगों को बल देने के लिए पूरा प्रयास किया जाएगा। इन उद्योगों की स्थिति सही करने के लिए बिना किसी गारंटी के लोन प्रदान किया जाएगा।  वित्त मंत्री जी ने कुटीर व मध्यम उद्योगों को देश की प्रगति का एक खास अंग बताया है, जिसको बचाना बहुत ही आवश्यक है। साथ ही को MSME ई मार्केट से जोडा जाएगा, जिससे इन उद्योगों का विस्तर किया जाएगा।
  • पंजीकृत कंपनी के कर्मचारियों के लिए: – पीएम आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज के तहत सभी पंजीकृत कंपनियों के कर्मचारी को जिनकी सैलरी 15,000 के कम है, उनके वेतन का 24 फीसदी पीएफ सरकार द्वारा जमा किया जाएगा। साथ ही कर्मचारियों का अगस्त तक का ईपीएफ केंद्र सरकार जमा करेगी। इसके साथ संस्थान पहले 12% कर्मचारी के पीएफ में जमा करते थे, अब उन्हें यह 10% जमा करना होगा। Economic Package में गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी की सहायता की जाएगी। जिसके लिए 30,000 करोड़ की स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम को शुरू किया जाएगा।
  • आयकर (Income Tax) के लिए: – मार्च 2022 तक TDS और TCS की दरों में 25 फीसदी कटौती का फैसला लिया गया। साथ ही ट्रस्ट LLP को तुरंत आयकर रिफंड मिलेंगे। इसके साथ ही टैक्स असेसमेंट की तरीक को 31 दिसंबर तक बढ़ाया गया और “विवाद से विश्वास योजना” की समय सीमा 31 दिसंबर तक बढ़ाई गयी है। आयकर रिटर्न की तारीख 30 नवंबर तक बढ़ाई गयी है।

आत्मनिर्भर भारत योजना PDF in Hindi Download

PM Aatmanirbhar Bharat Loan Yojana PDF

प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गयी अन्य योजनाओं की जानकारी हेतु यहाँ क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top